गुरु पर शायरी, कोट्स | Poems on Teachers

हम सभी जानते हैं कि हर साल 5 सितंबर को Teachers Day (शिक्षक दिवस) के रूप में मनाया जाता है! इस दिन डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिन भी है। उनकी याद में उनके जन्मदिन को शिक्षक दिवस के रूप में नामित किया गया है। हमारे लिए यही अवसर है अपने गुरु को उनके मार्गदर्शन के लिए आभार व्यक्त करने का। इसीलिए आपके लिए हैं- Poems on Teachers in Hindi.

शिक्षक बिन ज्ञान नहीं
ज्ञान बिन आत्मा नहीं
ध्यान, ज्ञान, धैर्य और कर्म
सब शिक्षक की ही देन हैं

हैप्पी टीचर्स डे

मनुष्य को गुणवत्तापूर्ण बनाने के लिए शिक्षा बहुत जरूरी है। क्योंकि बिना पढ़े मनुष्य पशु के समान होता है। मानवीय क्रियाओं और व्यवहार में शिष्टाचार और सुंदरता शिक्षा के माध्यम से ही आती है। शिक्षक का शिक्षा जगत में गौरवपूर्ण स्थान है। बच्चों की शिक्षा की पूरी जिम्मेदारी शिक्षक/गुरु/अध्यापक पर निर्भर करती है। समाज और देश के निर्माण में शिक्षक का बहुत बड़ा योगदान है।

यदि शिक्षक चाहता है, तो वह देश को रसातल में ला सकता है या वह देश को स्वर्ग बना सकता है। एक शिक्षक देश के लिए एक योग्य नागरिक बनाकर देश का भविष्य बनाता है। इसलिए अध्यापक को समाज में गर्व और सम्मानजनक स्थान मिलना चाहिए।

शिक्षक का महत्व सर्वविदित है। राष्ट्र का सच्चा और वास्तविक निर्माता शिक्षक है क्योंकि अपने छात्रों को शिक्षित और शिक्षित बनाकर, वह ज्ञान की अखंड ज्योति जलाते हैं जो देश और समाज के अंधकार को दूर करके ज्ञान का प्रकाश फैलाता है।

प्रत्येक देश के छात्र उस देश के भावी निर्माता हैं। उनका नैतिक, मानसिक और सामाजिक विकास शिक्षक या गुरु पर निर्भर करता है। गुरु एक कुम्हार की तरह है जो अपने प्रयासों से घड़े को सुंदर और सुडौल बनाता है।

आइये देखते हैं – अध्यापक पर कवितायें (Poems on Teachers Day in Hindi, Guru Par Kavita)

Poems on Teachers in Hindi

मैं जीने के लिए अपने पिता का ऋणी हूँ, पर अच्छे से जीने के लिए अपने गुरु का।

Poem on Teacher – #1

माँ ने उँगली पकड़कर आँगन में दौड़़ाया,
पिता ने दुनिया की राह पर चलना सिखाया,
जग में सर्वोपरि स्थान गुरुवर आपको,
मुझे जीवन-सार देकर एक व्यक्ति बनाया।

कागज के पन्ने पर अंकित जड़ आकृति था,
चित्रकार की रंगहीन भ्रमित कलाकृति था,
वन्दन बारम्बार गुरुवर आपको,
मुझे चेतन कर, रंग भर
एक सुन्दर प्रस्तुति बनाया।

मस्तिष्क का कोना-कोना ज्ञान से रिक्त था,
हृदय का कतरा-कतरा भाव से रहित था,
नमन कोटि-कोटि गुरुवर आपको,
मुझे ज्ञान-भाव से युक्त कर सार्थक उत्पत्ति बनाया।

सद्भभाव, सद्कार्य, सदाशयता सदाचार,
सभी मानवीय गुणों से मुझे परिपूर्ण किया,
बलिहारी जाऊँ गुरुवर आप पर,
अपने शिष्य को एक विभूति बनाया ।

~ सतेन्द्र शर्मा ‘तरंग’

Poem on Teacher in Hindi – #2

निराशा में आशा की झलक दिखा दे,
दुखों में खुशी की बौछार करा दे,
दर्द पर ऐसा मरहम लगा दे,
एक गुरु ही है जो भगवान से साक्षात्कार करा दे!

कभी ना कभी बिखरी जिंदगी देखी होगी,
कभी टूटती आस भी देखी होगी,
गरीबी अमीरी भी देखी होगी,
हो गुरु का हाथ सर पर तो तपती धूप में भी ठंडी छाव की फुहार देखी होगी!

गुरु का स्थान सबसे ऊपर,
मिलाते हैं उस परमात्मा से,
माता-पिता संस्कार सिखाते,
गुरु परम ज्ञान समझाते!

सत्य जिनकी वाणी हो,
उपकार उनका हो धर्म,
अपने आत्म ज्ञान से सबका मन हर ले
ऐसा हो वो परम,
जाएं हम सब उनकी शरण में ऐसे हो हमारे कर्म,
दीनबंधु दुखी दरिद्र सबको गले लगाएं,
ऐसे हो हमारे #पुरु
जय जय जय हो जय हो हमारे गुरु

पुरु :- महान सम्राट जिनकी अगली पीढ़ी भरत वंश हुआ जिसके नाम से ही भारत का नाम पड़ा!

लेखक – नीरज दुधवाल

Poem on Teacher in Hindi – #3

जब से हुई, भाग्य से, हमको सद्गुरु की पहचान है,
जीवन का पथ कठिन तभी से हुआ हमें आसान है।

मंदिर-मंदिर शीश नवाया, घूमे आठों याम हम,
गंगा-गोदावरी नहाए, गए तीर्थ, हर धाम हम,
जहाँ-जहाँ भी गए, रहा बस हमें उन्हीं का ध्यान है।

हमें धनुर्धर या मुरलीधर में न मिला कुछ भेद है,
हो कोई भी रूप, न उससे है अतृप्ति या खेद है,
गुरु है शंकर, गुरु गायत्री, गुरु अपना भगवान है।

उंगली पकड़ चलाया हमको, हो न सका भटकाव फिर,
अंधकार या आंधी में था तनिक न भय का भाव फिर,
है अटूट विश्वास कि संग में, प्राणों का भी प्राण है।

छाए प्राणों के प्रवाह में, और बसे हर रोम में,
साहस बन, आलोक भर गए, वह भीषण तम-तोम में,
जिसने किया समर्पण, उसका किया सदा कल्याण है।

गुरु ही साध्य, सिद्धि और साधन, वही साधना-शक्ति है,
प्राणों प्रेरणा वही है, वही भाव में भक्ति है,
चिंतन, चर्चा और कथा का, गुरु ही विषय महान है।

सदा चलेंगे, लिए हाथ में, जलती हुई मशाल हम,
हम हैं वनार – रीछ राम के, हैं गिरिधर के ग्वाल हम,
संस्कृति की सीता के हित में, हर साधक हनुमान है।

लेखक – शचींद्र भटनागर

teachers shayari quotes in hindi

Shayari on Teachers in Hindi

Shayari on Guru in Hindi -1

गुमनामी के अंधेरे में था पहचान बना दिया
दुनिया के गम से मुझे अनजान बना दिया
उनकी ऐसी कृपा हुई गुरु ने मुझे एक अच्छा इंसान बना दिया

Gumanami ke andhere mein tha pahachaan bana diya
Duniya ke gam se mujhe anajaan bana diya
Unki aisi kripa hui guru ne mujhe ek achchha insaan bana diya

Shayari on Teacher in Hindi -2

क्या दूँ गुरु-दक्षिणा, मन ही मन मैं सोचूं।
चुका न पाऊं ऋण मैं तेरा, अगर जीवन भी अपना दे दूँ।

Kya du Guru-Dakshina, man hi man main sochu.
Chuka na paun rin main tera, agar jeevan bhi apna de du.

Shayari on Teachers in Hindi -3

गुरु की उर्जा सूर्य-सी, अम्बर-सा विस्तार,
गुरु की गरिमा से बड़ा, नहीं कहीं आकार।
गुरु का सद्सान्निध्य ही,जग में हैं उपहार,
प्रस्तर को क्षण-क्षण गढ़े, मूरत हो तैयार।

Guru ki urja soory-si, ambar-sa vistaar,
Guru ki garima se bada, nahin kahin aakaar.
Guru ka sadsaannidhy hi, jag mein hain uphaar,
Prastar ko kshan-kshan gadhe, moorat ho taiyaar.

Guru Par Shayari in Hindi -4

गुरु बिना ज्ञान नही ,गुरु बिना सुनी हैं जिंदगानी,
गुरु बिना न राम मिले ना मिले सत्य का राज
जब मिले गुरु का ज्ञान तो हो जाये सत्य का ज्ञान

Guru bina gyaan nahi ,guru bina sunee hain jindagaani,
Guru bina na raam mile na mile saty ka raaj
Jab mile guru ka gyaan to ho jaaye satye ka gyaan

शिक्षक पर शायरी -5

गुरू यह दुनिया,दुनिया न होती, गर खुदा का नूर न होता
यह दुनिया कितनी बेजान होती, गर संगीत का सुर न होता
खुदा खुदा न होता, संगीत संगीत न होता,
गर इस दुनिया में गुरूओं का गुर न होता !

Guru yah duniya,duniya na hoti, gar khuda ka noor na hota
Yah duniya kitani bejaan hoti, gar sangeet ka sur na hota
Khuda khuda na hota, sangeet sangeet na hota,
Gar is duniya mein guruon ka gur na hota !

गुरु पर शायरी -6

आप से ही सिखा, आप से ही जाना,
आप को ही बस हमने गुरु है माना,
सिखा है सब कुछ बस आप से हमने,
शिक्षा का मतलब बस आप से ही है जाना.

Aap se hi sikha, aap se hi jaana,
Aap ko hi bas hamane guru hai maana,
Sikha hai sab kuchh bas aap se hamane,
Shiksha ka matlab bas aap se hi hai jaana.

Teachers Shayari Hindi mein -7

सत्य न्याय के पाठ पर चलना, शिक्षक हमें बताते हैं।
जीवन संघर्षों से लड़ना, शिक्षक हमें सिखाते हैं।

Saty nyaay ke paath par chalna, shikshak hamen bataate hain.
Jeevan sangharsho se ladna, shikshak hamen sikhaate hain.

Quotes on Teachers in Hindi | शिक्षक पर कोट्स

Quotes on Teachers -1

एक हज़ार दिनों के मेहनत भरे अध्ययन से एक अच्छे गुरु के साथ बिताया एक दिन बेहतर है.

Quote on Teacher -2

एक अच्छा शिक्षक आशा को प्रेरित कर सकता है, कल्पना को प्रज्वलित कर सकता है, और सीखने के प्यार को बढ़ा सकता है।

Quotes on Guru -3

रचनात्मक अभिव्यक्ति और ज्ञान में आनंद जगाना शिक्षक की सर्वोच्च कला है।

Guru Quote in Hindi -4

मैं जीने के लिए अपने पिता का ऋणी हूं, लेकिन अच्छे जीवन जीने के लिए अपने शिक्षक का।

Guru Par Quotes in Hindi – 5

एक अच्छा गुरु दिल से पढ़ाता है किताबों से नहीं.

शिक्षक पर कोट्स -6

शिक्षकों के तीन प्यार होते हैं: सीखने का प्यार, शिक्षार्थियों का प्यार, और पहले दो प्यारों को एक साथ लाने का प्यार।

Quotes on Teachers in Hindi -7

एक शिक्षक अनंत काल को प्रभावित करता है; वह कभी नहीं बता सकता कि उसका प्रभाव कहाँ रुकता है।

Teachers Quotes in Hindi -8

शिक्षा देना, हमेशा के लिए किसी के जीवन को बदलने के बराबर है.

गुरु पर कोट्स -9

एक शिक्षक के कर्तव्य न तो बहुत कम होते हैं और न ही छोटे, लेकिन वे मन को ऊंचा करते हैं और चरित्र को ऊर्जा देते हैं।

अन्य सम्बंधित लेख: