Teachers Day Essay in Hindi | शिक्षक दिवस निबंध

Teachers Day Essay in Hindi

टीचर्स डे या शिक्षक दिवस 5 सितंबर को भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन के दिन मनाया जाता है. इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय शिक्षक दिवस 5 अक्टूबर को मनाया जाता है.

हमारा इतिहास गवाह है की शिक्षक का पद सदियों से सबसे ऊपर रहा है। शिक्षक हर देश की तरक्की की पहली नीव है। एक अच्छा शिक्षक हमारे जीवन में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जब बच्चा पैदा होता है तो उसकी सबसे पहली शिक्षक उसकी मां होती है। चाहे वह मां हो या स्कूल कॉलेज में मिले टीचर यह दोनों ही दुनिया के सबसे बड़े गुरु होते हैं। यह ना केवल हमें शिक्षा देते हैं बल्कि हमारे आने वाले कल को एक सुनहरे मोड़ पर भी ले जाते हैं। हमारे जीवन की हर एक तरक्की का पहला कदम इन से पूछ कर उठाया जाता है, क्योंकि एक शिक्षक कभी भी अपने विद्यार्थी का बुरा नहीं चाहता. वो बस यह चाहते हैं कि वह जीवन में जो भी कदम उठाएं वह उनके लिए अच्छा साबित हो।

एक अच्छे विद्यार्थी की यह निशानी होती है कि वह अपने गुरु के सभी आदेश माने और उन्हें सबसे ज्यादा इज्जत दे। जो इंसान अपने गुरु की इज्जत करना जानता है केवल वही इंसान सफलता में कभी मात नहीं खाता। अपने गुरु से शिक्षा लेना और उस शिक्षा को अच्छी जगह पर उपयोग करना यही होती है एक अच्छे विद्यार्थी की निशानी।

टीचर्स डे के उपलक्ष में हम यहाँ teachers day essay in hindi, shikshak diwas par nibandh (शिक्षक दिवस पर निबंध) लेकर आए हैं जो आप अपना स्कूल का काम पूरा करने या असाइनमेंट के लिए इन निबंधों का इस्तेमाल कर सकते हैं.

Short Essay on Teacher in Hindi | शिक्षक पर निबंध हिंदी में 300 Words

प्रस्तावना | Hindi Essay on Teacher

एक शिक्षक हमारे समाज का ऐसा कारीगर है जो उसे कण-कण जोड़कर हर रोज अपनी मेहनत से बनाता है। एक शिक्षक समाज को तब तक आकार देता है जब तक वह तरक्की की राह पर ना पहुंच जाए। और हर दिन अपनी उस मेहनत पर गर्व करता है। अपने शिष्य को तरक्की की ऊंचाइयों पर चमकता देखकर जो खुशी एक शिक्षक की आंखों में होती है, वह कई सालों तक की गई उनकी मेहनत के कारण होती है। अकसर विद्यार्थी अपने शिक्षक से डरते जरूर है परंतु हमेशा उनकी इज्जत और सम्मान पूरा करते हैं।

एक अच्छा शिक्षक ना केवल बच्चों को पढ़ाता है बल्कि बच्चों की मनोदशा को भी समझता है और उनसे बातचीत करके उनकी सभी परेशानियों का हल निकलता है। जब कोई बच्चा बिना डरे अपने शिक्षक से अपने दिल की सारी बातें कर सकें, इसका यह मतलब होता है कि उस शिक्षक ने अपने विद्यार्थी का दिल हर तरफ से जीत लिया है। ऐसे शिक्षक बहुत कम मिलते हैं जिनसे बच्चे खुलकर बात कर सकते हैं, परंतु जब हमें ऐसे शिक्षक मिलते हैं तब वह हमारी जिंदगी का सबसे अनमोल हिस्सा कहलाते हैं।

उपसंहार | टीचर्स डे निबंध

एक शिक्षक के ज्ञान और उसकी कला में ऐसी ताकत होती है जिससे वह पूरी दुनिया को बदल सकता है। कहने को तो लोग यह भी कहते हैं कि एक शिक्षक की नौकरी एक आम नौकरी जैसी है परंतु यह बात बहुत कम लोग महसूस कर पाते हैं कि हम सब को सफल बनाने वाला भी एक शिक्षक ही है। चाहे हमारे देश का प्रधानमंत्री हो क्या कोई बहुत अच्छा डॉक्टर हो सभी के सिर पर उनके शिक्षक का हाथ रहा है। आज हम जहां भी खड़े हैं हम केवल अपने शिक्षक के दम पर खड़े हैं।

यह हमेशा याद रखें कि गुरु का महत्व और गुरु का पद जीवन में सबसे ऊपर होता है। सदैव उनका आदर और सत्कार करते रहें तब ईश्वर भी आपकी तरक्की में आपका साथ देंगे।

Hindi Essay on Teacher | शिक्षक पर निबंध 500 Words

प्रस्तावना | Teacher Per Nibandh

हमारी इस धरती पर ईश्वर का सबसे बड़ा वरदान इस शिक्षक के रूप में धरती पर आया है। एक शिक्षक की वजह से पूरी दुनिया सकारात्मक बनती है और सभी को जीवन में कुछ बनने के लिए प्रेरित करती है। जो सीख एक शिक्षक देता है उसी सीख से दुनिया एक बेहतर रूप लेती जा रही है। शिक्षक नई सोच और नई उमंग का सबसे अच्छा जरिया होता है। सभी के जीवन में अच्छे शिक्षक का होना उतना ही महत्वपूर्ण है जितना जिंदा रहने के लिए सांसे लेना जरूरी होता है।

शिक्षक हमें अहिंसा के ऊपर शिक्षा और कलम की ताकत को समझाता है। एक अच्छा शिक्षक लोगों को जीने का नजरिया देता है और हर उस रास्ते से अवगत कराता है जो तरक्की की ओर बढ़ता रहे। एक अच्छा शिक्षक कभी भी अपने विद्यार्थी को कोई गलत रास्ते पर चलने की सलाह नहीं देगा, और पूरी कोशिश करता रहेगा कि उनका विद्यार्थी हमेशा सच्चाई और अच्छाई की राह पर चलते हुए मेहनत करता रहे। चाहे कोई भी हो, हर सफल मनुष्य के पीछे उसके शिक्षक का हाथ जरूर होता है। यदि शिक्षक ना हो तो शिक्षा का हर रंग बेरंग हो जाता है।

गुरु केवल आपको शिक्षा नहीं देते बल्कि आपको एक अच्छा इंसान भी बनाते हैं। शिक्षक आपको केवल किताबी ज्ञान नहीं देता, क्योंकि पढ़ाई से बाहर भी एक दुनिया है उसका सामना करना सबको आना चाहिए। शिक्षक हमें दुनिया की सच्चाईयों से अवगत कराते हैं और उस दुनिया में हर बुराई से लड़ने की ताकत और समझ भी देते हैं। एक शिक्षक समाज पर अपनी अच्छाइयों की छाप छोड़ जाता है और अपने विद्यार्थी की जिंदगी को आसमान की हर उस ऊंचाई पर लेकर जाता है, यहां पहुंचने का सपना हम सभी देखते हैं।

शिक्षक का महत्व | Mera Priya Shikshak

एक शिक्षक इतना भरोसेमंद होता है कि जब एक बच्चा बहुत छोटा होता है तो उसकी मां उसकी अध्यापिका के भरोसे उसे स्कूल छोड़कर जाती है। क्योंकि वह जानते हैं कि इसका ख्याल जितना हम अपने घर में रखते हैं उतना ही ख्याल उसकी अध्यापिका स्कूल में रखेगी। केवल एक विद्यार्थी का ही नहीं बल्कि मां बाप को भी उनके शिक्षक से बहुत उम्मीदें होती हैं। अपने बच्चों की तरक्की की डोर मां बाप पूरे भरोसे के साथ उनके शिक्षक के हाथ में दे देते हैं। क्योंकि इतिहास गवाह है कि जब भी किसी शिक्षक ने अपने शिष्य का हाथ थाम कर उसे आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया है, ऐसा विद्यार्थी कभी असफल नहीं हुआ है।

उपसंहार | Adarsh Shikshak Par Nibandh

शिक्षक ऐसे भी होते हैं जो किसी विद्यार्थी को जिंदगी भर याद रह जाते हैं। यह सच है कि सभी के जीवन में एक बार एक ऐसा शिक्षक जरूर आता है जो उन्हें सिर्फ पढाता नहीं बल्कि दुनिया भी दिखाता है। ऐसे शिक्षक को हम सभी जिंदगी भर याद रखते हैं। जब भी कहीं किसी अच्छे शिक्षक की बात होती है हम सभी के दिमाग में एक ऐसा शिक्षक का नाम जरूर आता है, जिसके बारे में सोच कर हमारी आंखों में चमक और चेहरे पर एक मुस्कान आती है। क्योंकि उनके जैसा शिक्षक दोबारा मिलना बहुत मुश्किल होता है। इसीलिए कहते हैं कि जब तक भी आपके गुरु आपके साथ हैं उन से भरपूर ज्ञान लें और जितना हो सके उतनी अच्छी बातें भी सीखें। गुरु के सुनहरे शब्द आपका जीवन बना सकते हैं।

Shikshak Diwas Par Nibandh | शिक्षक दिवस निबंध 1000 Words

प्रस्तावना | Paragraph on Teachers Day in Hindi

शिक्षक चाहे कोई भी हो, कहीं भी हो या किसी भी विषय का हो, यह सभी हमारी तरफ से पूरी इज्जत और सम्मान के हकदार हैं, क्योंकि इन्होंने अपने परिवार और अपनी जरूरतों को किनारे रखकर हमेशा अपने विद्यार्थियों का साथ दिया है। शिक्षक स्वयं को और अपने परिवार को एक बार के लिए चाहे पीछे छोड़ दे परंतु अपने विद्यार्थियों को कभी पीछे नहीं छूटने देते। हर शिक्षक अपने आप से यह वादा करता है कि वह अपने शिष्य की तरक्की के लिए पूरी जिम्मेदारी अपने कंधों पर लेते हैं, और जहां भी वह डट जाएंगे वहां उनका साथ देने के लिए हमेशा खड़े रहते हैं।

जब कोई विद्यार्थी सफल होता है उसकी सफलता का पूरा श्रेय उसके शिक्षक को जाता है, अपने विद्यार्थी की सफलता देखना एक शिक्षक के लिए उसके जीवन की सबसे बड़ी खुशी कहलाता है। जब कोई विद्यार्थी विजयी नहीं होता तब सबसे ज्यादा दुख उसके शिक्षक को ही होता है, किन्तु एक शिक्षक में ऐसी ताकत होती है कि वह स्वयं तो उठ खड़े होते हैं और अपने विद्यार्थी को भी उठाते हैं। अपने विद्यार्थियों को फिर से आगे बढ़ने की प्रेरणा देते हैं और उनकी ताकत बनकर उनके पीछे खड़े रहते हैं। एक अच्छा शिक्षक कभी भी अपने विद्यार्थी को हार मानने की सलाह नहीं देता। निराशा चाहे हजार बार ही क्यों ना सामने आए परंतु एक शिक्षक उस निराशा को हटाने के लिए लाखों बार मेहनत करने को भी डटकर तैयार खड़े रहते हैं।

स्वयं को खुशनसीब समझिए यदि आपके जीवन में भी कोई ऐसा शिक्षक है जिन्होंने आपके जीवन की दशा पूरी तरह से बदल कर रख दी। अच्छे शिक्षक हमें पढ़ाने के लिए जो भी चीजें लगती है उनके लिए हमेशा तैयार खड़े रहते हैं, और हमें सिखाई जाने वाली चीजें तब तक हमें सिखाते हैं जब तक हम उन्हें अच्छे से समझ नहीं जाते। कभी कभी तो ऐसा लगता है कि जैसे गुरु में कोई दिव्य शक्तियां हैं, ना ही वो कभी थकते हैं और ना ही कभी हार मानते हैं।

महत्व | Teachers Day Essay in Hindi

अगर कभी आपको ऐसा लगता है कि आपका शिक्षक आपको बहुत ज्यादा काम देता है या आपको कठिनाइयों से गुजरने के लिए कहते हैं। अपने शिक्षक की ऐसी बातों का कभी बुरा ना माने क्योंकि आपको ऐसी परिस्थिति में डालकर आपका शिक्षक केवल आपको हर चुनौती के लिए तैयार करना चाहता है। चुनौतियों से लड़ने के लिए जो शक्ति चाहिए होती है उसके लिए आपका शिक्षक आपको कठिन स्थिति में डाल देता है। उनके दिए गए हर काम भी इज्जत करें और उसे पूरा करें।

एक विद्यार्थी की मदद करने के लिए शिक्षक किसी भी हद तक चले जाते हैं। केवल कक्षा के अंदर ही नहीं बल्कि आपको जीवन का ज्ञान भी देते हैं। दुनिया में जीना सिखाते हैं और किस तरह आगे बढ़ना है उन सभी रास्तों से आपको परिचित करवाते हैं। शिक्षक एक सीढ़ी है जिस पर आप अंधा भरोसा कर सकते हैं, क्योंकि कोई भी शिक्षक कभी अपने विद्यार्थी का बुरा नहीं चाहते, अपने हर एक विद्यार्थी को तरक्की करते हुए देखना उनका परम सपना होता है।

एक अध्यापक होना दुनिया का सबसे मुश्किल काम होता है। एक अच्छा गुरु इस बात का उदाहरण है कि किस तरह आप एक जूनून रखने वाले व्यक्ति बन सकते हैं। इतिहास गवाह है कि एक अच्छे गुरु की इज्जत एक विद्यार्थी किस तरह करता है। गुरु का दर्जा इतना ऊपर होता है कि एक विद्यार्थी अपने गुरु के लिए कुछ भी कर सकता है। भारत के इतिहास में यह बात लिखी गई है कि एकलव्य ने द्रोणाचार्य से यह वादा किया था कि वह गुरुदक्षिणा में जो भी मांगेंगे एकलव्य उन्हें वह अवश्य देगा।

गुरुदक्षिणा लेने का समय आया तब द्रोणाचार्य ने एकलव्य से ऐसा कहा कि वह अपना दाएं हाथ का अंगूठा काटकर उन्हें दे दे। एकलव्य के दिल में अपने गुरु के लिए इतना इज्जत और सम्मान भरा था कि उन्होंने हंसते-हंसते अपना एक अंगूठा काटकर द्रोणाचार्य के लिए गुरु दक्षिणा के रूप में दे दिया। एकलव्य और द्रोणाचार्य यह दोनों ही एक अच्छे शिक्षक और एक अच्छे शिष्य के बहुत बड़े उदाहरण है। अपने गुरु की इज्जत और आदेश का पालन करने की कला आपको किसी-से सीखनी है तो उसका सबसे अच्छा और बड़ा उदाहरण एकलव्य का है।

उपसंहार | Hindi Essay on Teacher

आप अपना गुरु चाहे किसी को भी मानते हों, फिर चाहे वह आप को जन्म देने वाली आपकी मां हो, विद्यालय में मिली आप की अध्यापिका यह दोनों ही साक्षात शिक्षक के रूप में भगवान का रूप होते हैं। माना की सफलता के लिए कड़ी मेहनत और लगन बहुत जरूरी होती है, परन्तु इन दोनों चीजों के साथ-साथ अपने गुरु का आशीर्वाद भी बहुत जरूरी होता है। उस आशीर्वाद से भी बढ़कर यह जरूरी है कि जब तक आप अपने गुरु की शरण में हैं और उसके बाद भी कभी अपने गुरु की इज्जत करना ना भूलें। एक गुरु ही तो है जिन्होंने आपको इस लायक बनाया कि आज आप सफलता की सीढ़ियों पर खड़े हैं। हमेशा अपने गुरु के आभारी रहें।

अंतिम शब्द

आशा करते हैं की आपको हमरा यह Teachers Day Essay in Hindi, शिक्षक दिवस निबंध लेख आपको पसंद आया होगा. नीचे टिप्पणी करके हमने इसके बारे में जरुरु बताएं. और अगर आपको यह टीचर्स डे निबंध पसंद आए तो अपने दोस्तों के साथ शेयर भी जरुर करें.

Editorial Team

Editorial Team

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest

Categories